• Regd. No-160/16

परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़ गांव में पसरा मातम

01-08-2022 06:26:13 PM

गाजीपुर से बी.के. सुमन की रिपोर्ट

भावर कोल थाना क्षेत्र अंतर्गत माढूपुर गांव में सोमवार की भोर में विद्युत की चपेट में आने से पिता और पुत्र की दर्दनाक मौत हो गई प्राप्त जानकार अनुसार माढूपुर गांव निवासी 63 वर्षीय सतीश नारायण मालवीय और उनका 28 वर्षीय एकलौता पुत्र अंकित मालवीय की विद्युत के चपेट में आने से दोनों की मौत  हो गई बताया जाता है कि सतीश नारायण मालवीय प्रतिदिन की भांति सोमवार के भोर में स्नान कर रेगनी पर कपडे सुखाने के लिए  डालने  गए लोहे की तार की रेगनी जो घर में लोहे की कील में बांधी हुई  और उसी में विद्युत का तार भी बांधा गया था  दोनों एक ही कील मे बधे होने के कारण रेंगनी में विद्युत प्रवाह हो गया उसी पर कपड़े को डालते समय  विद्युत की चपेट में आने से सतीश नारायण मालवीय जमीन पर गिर पड़े और चिल्लाने लगे चिल्लाने की आवाज सुनकर उनकी पत्नी सुंदर कली आई तो पति को जमीन पर गिरे देखकर अपने इकलौते पुत्र अंकित को जगाए और दौड़ते हुए उनका पुत्र आया पिता को उठाने लगा और ओ भी विद्युत प्रवाह के जद में आ गया जिससे पिता और पुत्र की मौके पर ही मृत्यु हो गई जब इसकी सूचना अगल बगल के लोगों को मिली तो मौके पर जाकर किसी ने 112 को सूचित किया मौके पर पुलिस पहुंच कर ग्रामीणों की मदद से पिता और पुत्र को मोहम्मदाबाद ट्रामा सेंटर में भेजा जहां डाक्टरों ने पिता और पुत्र को मृत घोषित कर दिया शव को ग्रामीणों ने घर ले लेकर आ गए आवश्यक कार्रवाई हेतु इस संबंध में परिजनों के तरफ से थाना भावरकोल  को लिखित सूचना दी गई मौके पर पहुंचकर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए गाजीपुर भेज दिया परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़ घर वालों ने बताया कि परिवार में एक मात्र परिवार का भरण पोषण करने वाला सतीश नारायण मालवीय ही थे जो खेती-बाड़ी करके किसी तरह अपने परिवार का भरण पोषण करते थे और अपनी जीविका चलाते थे क्योंकि 28 वर्षीय एकलौता पुत्र का 8 वर्ष पूर्व दुर्घटना में एक पैर खराब हो जाने के कारण वह कोई कार्य नहीं कर सकता था सिर्फ घर पर आकर खेती बारी में पिता का सहयोग करता था मृतक अंकित बालवीय अपने पीछे अपनी पत्नी खुशबू और दो पुत्रियां नित्या कुमारी और अनाख्या जो क्रमशः 3 और 1 बरस की को पीछे छोड़ गया


Comentarios Bhojpuri Samachar

No Comment Available Here !

Leave a Reply

अपना कमेंट लिखें। कॉमेंट में किसी भी तरह की अभद्र भाषा का प्रयोग न करें। *

Follow us

Mailing list

Copyright 2021. All right reserved